श्री रामशलाका प्रश्नावली

श्री रामशलाका प्रश्नावली और भगवान् श्री राम की कृपा

ram-4_1.png

श्रीरामशलाका-प्रश्नावली का उपयोग

श्रीरामचरित मनसानुरागी महानुभावों को श्रीरामशलाका-प्रश्नावली का विशेष परिचय देने की कोई आवश्यकता प्रतीत नहीं होती। उसकी महत्वता से सभी मानसप्रेमी परिचित होंगे। श्री रामशलाका-प्रश्नावली परम श्रद्धेय गुरुदेव गोस्वामी तुलसीदास जी द्वारा रचित "श्री रामचरित मानस" पर आधारित है। इस रामशलाका-प्रश्नावली के अनुसार जब भी आपके मन में किसी अभीष्ट प्रश्न का उत्तर जानने की इच्छा हो। तो सर्वप्रथम आपको प्रभु श्रीरामचंद्र जी का ध्यानपूर्वक स्मरण करके श्रद्धा और विश्वासपूर्वक मन से अभीष्ट प्रश्न को सोचते हुए, किसी भी कोष्ठक पर ऊँगली रख देनी है। उस अक्षर से एक चौपाई बन जायेगी, जो उस अक्षर से हर नवें अक्षर के मिलने से बनती है। चौपाई आपको एक पॉप-अप के रूप में दिखाई देगी। जिसके साथ ही उसका अर्थ भी लिखा होगा। जो आपके अभीष्ट प्रश्न का उत्तर होगा।




श्री रामशलाका प्रश्नावली - Ramshalaka Prashnavali

  • kalash   हर व्यक्ति चाहता है कि उसका जीवन एक परी कथा की तरह हो, उसे जीवन में हर खुशी मिलनी चाहिए, उसके सभी कार्य उसके अनुरूप होने चाहिए। लेकिन यह जीवन एक परीकथा नहीं है, लेकिन इस जीवन में हमें हर दिन नई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।

  • kalash   हम कई काम करते हैं, हमारे सपने असीमित हैं लेकिन कई कार्य पूरे नहीं किए जा सकते हैं, कई बार अन्य लोग कार्य में सफल होते हैं, हम असफल होते हैं या सभी कड़ी मेहनत के बाद भी अपेक्षित परिणाम उपलब्ध नहीं हैं। फिर हम असमंजस में पड़ जाते हैं कि क्या किया जाए। हमें ऐसा काम करना चाहिए या नहीं, हमें सफलता मिलेगी या हमारी मेहनत बेकार जाएगी, हम इस भ्रम को दूर करने के लिए पवित्र श्री रामशलाका प्रश्नावली (Ramshalaka Prashnavali) से सच्चा मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं।

  • kalash   हमारे धार्मिक साहित्य में इस अद्भुत पवित्र श्री रामशलाका प्रश्नावली (Ramshalaka Prashnavali) की बहुत मान्यता है और इसका उपयोग भी बहुत सरल है।

  • सबसे पहले, भगवान श्री राम के सच्चे हृदय का ध्यान करते हुए, जिस भगवान की कृपा चाह रहे हैं, का ध्यान करते हुए अपने मन में अपने प्रश्न को सोचें, फिर नीचे बंद अपनी आँखों से क्लिक करके उस कार्य की सफलता के लिए प्रार्थना करें।

  • kalash   श्री रामशलाका प्रश्नावली (Ramshalaka Prashnavali) पर आपके द्वारा क्लिक किया गया शब्द प्रत्येक नौंवे शब्द को जोड़कर एक दोहा बनाता है, जो आपका समाधान है। अब अपनी आँखें खोलें, आपके प्रश्न का उत्तर आपकी आँखों के सामने होगा।

  • kalash   यदि आपका प्रश्न अच्छा है, आपको सफलता मिलने का आशीर्वाद है, तो आपको हनुमान मंदिर के किसी भी स्थान पर जाना चाहिए और आपकी भक्ति के अनुसार, प्रसाद वितरित करें। साथ ही बड़ों, बच्चों, भाई-बहनों और महिलाओं को भी प्रसाद दें, तभी आप स्वयं प्रसाद ग्रहण करें और काम पूरा हो जाने के बाद, परिवार के धार्मिक स्थान पर दोबारा जाना न भूलें और अपनी आस्था और क्षमता के अनुसार प्रसाद बांटकर प्रसाद ग्रहण करें। 

  • kalash   यदि आपको जवाब मिला है कि काम की सफलता में संदेह है और आप अभी भी इसे करना चाहते हैं, तो आपको लगता है कि यह आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है और इसे छोड़ना आपके लिए बहुत मुश्किल है, तो आप किसी भी हनुमान जी के मंदिर पर जा कर पूजा करें। और एक नारियल पर एक कलावा बांधें और उसे किसी दक्षिणा के साथ दफन करें, और अपने दिल में अपनी इच्छा को दोहराते हुए कार्य का फल भगवान पर छोड़ दें।

  • kalash   यदि आप हिंदू धर्म का पालन करने जा रहे हैं, तो लगातार 6 शनिवारों को हनुमान जी पर सिंदूर में चमेली का तेल डालें और उनके पूरे शरीर पर लगाएं, उनके पैरों से शुरू करें और उसके बाद, यदि संभव हो तो, चांदी का वर्क लगाएं और यदि आपको सफलता मिलती है, तो हनुमान जी पर पूर्ण चोला चढ़ाएं और भंडारे या गरीबों को भोजन वितरित करें।